H1B Visa Jankari in hindi | एच1बी वीजा क्या है

Social Share

एच1बी वीजा जानकारी हिंदी में , इमिग्रेंट वीजा , नॉन इमिग्रेंट वीजा , वीजा अवधि , नियम , फायदे , योग्यता [ H1B Visa Jankari in hindi ] ( visa time period , visa type , immigrant visa , non immigrant visa , benifits , eligibility )

H1B Visa किसे कहते है :

H1B Visa अमेरिका में जॉब करने के लिए बनाया गया एक वर्क वीजा है ,जो एक बहुत ही पॉपुलर वीजा है। इसे नॉन इमिग्रेंट वीजा (गैर अप्रवासी वीजा )भी कहते है ,जिसके लिए दुनिया के लगभग सभी देशो के लोग आवेदन करते हैं । जो लोग एच1बी वीजा के लिए अमेरिकी सरकार के द्वारा दिए गए दिशा निर्देशों (Guide line ) को पूरा करते है ,उनको यह वीजा मिल जाता हैं। इस वीजा की शुरुवात -1990 में राष्ट्रपति जार्ज बुश के समय में हुई।

वीजा दो प्रकार type of visa :

वीजा दो प्रकार के होते हैं ।

1 – इमिग्रेंट वीजा – इस वीजा का मतलब यह है यदि आपको यह वीजा मिल गया और आप USA चले गए तो आप वहां हमेशा के लिए अमेरिका में रहकर काम कर सकते है ।

2 – नॉन इमिग्रेंट वीजा – इस वीजा के अंतर्गत आपको USA में परमानेंट रेसीडेंस नहीं मिलता ,अर्थात आपको कुछ साल वहाँ काम करके वापस भारत या आप जिस देश के निवासी हो वहाँ लौटना पड़ता है। यह VISA एक नॉन इमिग्रेंट वीजा है। 

अमेरिकी गवर्नमेंट ने H1B VISA को जारी करने के लिए कुछ शर्ते रखी है ।

1 – आप किसी काम को करने के लिए खास योग्यता रखते हो। 

2 – आप के पास कोई बेचलर डिग्री या उसके समान कोई डिग्री होनी चाहिए ।

H1B VISA नियम :

यह वीजा सयुंक्त राज्य अमेरिका USA की आवर्जन व राष्ट्रीयता अधिनियम की धारा 101(15 ) के तहत दिया जाता है। यह वीजा दो तरह की प्रक्रिया द्वारा प्राप्त किया जा सकता है ।

1 – एच -1 बी वीजा की नियमित प्रक्रिया – यह एक लम्बी प्रक्रिया है , इस प्रक्रिया द्वारा वीजा प्राप्ती हेतु किये गए आवेदन के लिए यूनाइटेड स्टेट्स सिटीजनशिप एंड इमीग्रेशन सर्विस (USCIS ) द्वारा कोई समय सीमा निर्धारित नहीं की गई है ,इसमें  एक महीने से लेकर छ महीने तक का समय लग सकता है ।

2 – एच -1 बी वीजा की प्रीमियम प्रक्रिया – यह वीजा प्राप्त करने की एक तेज विधि है। जिसके लिए USA सरकार 1225 डॉलर का अतिरिक्त शुल्क लेती है ।

मान लीजिये अमेरिका में कोई कंपनी है X ,और इंडिया में Y है । अमेरिकन कंपनी X को यदि कोई सर्विस चाहिए भारत की कंपनी Y से , तो कई बार दोस्तों ऑनलाइन सर्विस देना मुश्किल होता है तो इस स्थिति में वर्कर को भेजना पड़ता है जो USA की कंपनी x में जाकर सर्विस प्रोवाइड करा सके। तो इस स्थिति में अमेरिका ऐसे हाई स्किल्ड लोगो को वर्क वीजा देता है। ये वर्क वीजा  कई प्रकार के होते है। जैसे – H1B VISA , H2B VISA,  L1 VISA आदि। इनमे से H1B VISA एक पॉपुलर वीजा है। अमेरिका गवर्नमेंट हर साल लगभग 85 हजार H1B VISA जारी करती है और यह वीजा पुरे विश्व के लोगो के लिए होता है।

यहाँ पर यह भी बताना भी आवश्यक है कि ,इस वीजा का आवंटन एक लॉटरी सिस्टम के तहत किया जाता है इन 85 हजार वीजा में से 60  हजार वीजा को विदेशी हाइली स्किल्ड वर्कर को दिया जाता है और बाकि बचे 25  हजार वीजा को उन विदेशी वर्कर को दिया जाता है जो अमेरिका में आकर वहाँ की यूनिवर्सिटी से हायर एजुकेशन प्राप्त कर चुके है।

दोस्तों h1b visa के माध्यम से अमेरिका विदेशो से सस्ते दर पर वर्कर को काम देता है जिससे उसे आर्थिक तौर  पर फायदा होता है। इससे भारत को भी फायदा होता है क्योकि भारत की कुछ कम्पनिया अमेरिका में भी है जैसे Infosis , Tcs , Wipro , Hcl ये कम्पनियाँ यदि अमेरिका के नागरिको को वर्क पर लेंगी तो वह उन्हें ज्यादा पे करना पड़ता है।

वीजा की समय अवधि :

इसको पहले तीन साल के लिए जारी किया जाता है ,लकिन अब इसे आप अधिकतम छह साल के लिए इसकी अवधि को बड़ा सकते है। इससे आप इस वीजा के साथ अमेरिका में छः वर्ष तक रह कर कार्य कर  सकते है ,यदि आप इसे Renew कराना चाहते है तो आपको इंडिया आना पड़ेगा या आप जिस देश के भी नागरिक हो आपको अपने देश  वापस लौटना पड़ेगा  और एक साल बाद आप इसके लिए दोबारा आवेदन कर सकते है।

H1B VISA के वीजा फायदे :

H1B VISA वीजा का फायदा ये है की जो लोग USA में  छः साल से काम कर रहे हो और वो USA में हमेशा के लिए रहकर काम करना चाहते है तो वे लोग ग्रीन कार्ड के लिए भी आवेदन कर सकते है और यदि आपको ग्रीन कार्ड मिल जाता है तो आपको अमेरिका की स्थाई नागरिकता मिल जाएगी। ग्रीन कार्ड के लिए आवेदन केवल H1B VISA  द्वारा ही किया जा सकता है ,अन्य वीजा से आप इसके लिए आवेदन नहीं कर सकते है।

FAQ :

Q : H1b VISA कौन सा देश जारी करता है ?

ANS : संयुक्त राज्य अमेरिका

Q : एच -1 बी वीजा क्या है ?

ANS : H1B Visa अमेरिका में जॉब करने के लिए बनाया गया एक वर्क वीजा है ,जो एक बहुत ही पॉपुलर वीजा है। इसे नॉन इमिग्रेंट वीजा ( गैर अप्रवासी वीजा )भी कहते है ।

अन्य पोस्ट पढ़े :

1 – हिंदी दिवस के बारे में पढ़े

2 – अन्तर्राष्ट्रीय बाघ दिवस


Social Share

Leave a Comment

जानिए रविंद्र जडेजा क्यों हुए वर्ल्ड कप से बाहर लाइगर फिल्म अभिनेत्री अनन्या पांडे फैक्ट मीराबाई चानू ने जीता बर्मिंघम कॉमनवेल्थ गेम्स में स्वर्ण पदक Actress Tara Sutaria Biography, Age, Height, Family, Moveis, Networth भारती और हर्ष पहली बार नजर आए अपने बेबी के साथ जानिए बेबी का नाम बॉलीवुड की हॉट एक्ट्रेस दिशा पाटनी के बारे में जाने