हिंदी दिवस कब और क्यों मनाया जाता है | Hindi Divas Jankari in Hindi

Social Share

हिंदी दिवस कब और क्यों मनाया जाता है , राष्ट्रीय हिंदी दिवस , विश्व हिंदी दिवस , राजभाषा National Hindi Day , World Hindi Day

भारत विविधताओं का देश है यहाँ विभिन्न धर्मो के लोग निवास करते हैं। यहाँ हर राज्य की अपनी सांस्कृतिक व ऐतिहासिक पहचान है और हर जगह अलग -अलग बोली जाती है। जिसका इस्तेमाल वे अपने बोलचाल में करते है। इन्ही भाषाओं के बीच हिंदी भी एक बोले जाने वाली भाषा है , जिसे बोलने वालो की संख्या भारत में सर्वाधिक है।आज हम इसी भाषा के बारे में विस्तार से जानेंगे ।

हिंदी दिवस कब मनाया जाता है :

भारत में प्रत्येक वर्ष 14 सितम्बर को हिंदी दिवस के रूप में मनाया जाता है। हिंदी को 14 सितम्बर 1949 को सांवैधानिक रूप से राजभाषा घोषित किया गया था इसीलिए तब से इस दिन को हिंदी दिवस के रूप में मनाया जाता है।हिंदी को हमारे सविधान की आठवीं अनुसूची में शामिल किया गया है।

हिंदी दिवस को क्यों मनाया जाता है :

भारत अंग्रेजो की गुलामी से 1947 में आजाद हुआ लेकिन उनकी अंग्रेजी भाषा आज भी हमे गुलाम बनाये हुए है।समाज में अंग्रेजी को उच्च वर्गीय भाषा के तौर पर देखा जाता है और हिंदी बोलने वाले वर्ग को पिछड़ा समझा जाता है इस भाषाई जंजीर को तोड़ने और अपनी मात्रभाषा हिंदी के विकास और प्रचार प्रसार के लिए हिंदी दिवस को मनाया जाता है।

हिंदी दिवस कैसे मनाया जाता है :

हिंदी दिवस के अवसर पर विद्यालयों में सरकारी कार्यालयों में कई तरह के कार्यक्रम आयोजित किये जाते है। इस दिन छात्रों को हिंदी के दैनिक इस्तेमाल करने की शिक्षा दी जाती है। इसके साथ ही हिंदी में व्याख्यान ,निबंध लेखन ,वाद -विवाद और हिंदी टंकण आदि प्रतियोगिता का आयोजन किया जाता है। और अंत में विजेताओं को पुरस्कृत भी किया जाता है। इसके आलावा राष्ट्रीय स्तर पर हिंदी के सम्मेलन आयोजित किये जाते है जिसमे देश -विदेश के हिंदी कवि शिरकत करते है।

राजभाषा का अर्थ :

राजभाषा का अर्थ राजकाज की भाषा होता है अर्थात जो भाषा देश के सरकारी कार्यो के लिए उपयोग में लायी जाती है वह राजभाषा कहलाती है।राजभाषा एक सवैंधानिक शब्द है जिसके बारे सविंधान के भाग -17अनुच्छेद 343 से 351 में दिया गया है।

भारत के बाहर किन देशो में हिंदी बोली जाती है :

हिंदी पुरे विश्व में चौथी ऐसी भाषा है जिसे सबसे ज्यादा बोला जाता है और इसे केवल भारत में ही नहीं अपितु भारत के बाहर अन्य देश जैसे सूरीनाम ,पाकिस्तान ,नेपाल ,मॉरीसस, बांग्लादेश ,त्रिनिदाद एवं टोबेगो और साउथ अफ्रीका जैसे देशो में बोली जाती है।

विश्व हिंदी सम्मेलन की सूची :

हिंदी भाषा के प्रचार प्रसार और इसके विकास के लिए विश्व हिंदी सम्मेलन का आयोजन किया जाता है , यह हिंदी भाषा का सबसे बड़ा अन्तर्राष्ट्रीय सम्मेलन है इस सम्मेलन में पूरे विश्व से हिंदी के विद्वान ,पत्रकार ,हिंदी विषय के विशेषज्ञ,साहित्यकार व हिंदी भाषा के प्रेमी आते है। इन सम्मेलनों की शुरुवात 1975 में हुई थी। और उस समय हमारे देश की प्रधानमंत्री श्रीमती इंदिरा गाँधी थी जिन्होंने हिंदी के प्रसार के लिए सहयोग किया था। और पहला हिंदी सम्मलेन राष्ट्रभाषा प्रचार समिति वर्धा के सहयोग से नागपुर में इन्ही के शासनकाल में हुआ था। अब तक ग्यारह हिंदी सम्मेलन हो चुके है। जिसके बारे में नीचे श्रेणी वार दिया गया है।

क्रम आयोजन तिथि आयोजन स्थल
1 – 10-14 जनवरी 1975 नागपुर ( भारत )
2 – 28 -30 अगस्त 1976 पोर्ट लुई (मॉरीशस )
3 – 28 -30 अक्टूबर 1983 नयी दिल्ली (भारत )
4 – 2-4 दिसंबर 1993 पोर्ट लुई (मॉरीशस )
5 – 4-8 अप्रैल 1996 त्रिनिदाद एवं टोबेगो
6 – 14 -18 सितम्बर 1999 लंदन (यूनाइटेड किंगडम )
7 – 5 – 9 जून 2003 पारामरिबो (सूरीनाम )
8 – 13 – 15 जुलाई 2007 न्यूयॉर्क (सयुंक्त राज्य अमेरिका )
9 – 22 -24 सितम्बर 2012 जोहान्सबर्ग (दक्षिण अफ्रीका )
10 – 10 -12 सितम्बर 2015 भोपाल (भारत )
11 – 18-20 अगस्त 2018 पोर्ट लुई (मॉरीशस )
12 – 2021 न्यूयॉर्क में प्रस्तावित

विश्व हिंदी दिवस :

विश्व हिंदी दिवस 10 जनवरी को मनाया जाता है। इसका उदेश्य हिंदी का अंतररष्ट्रीय स्तर पर प्रचार-प्रसार करना व इसके सतत विकास पर जोर देना है। इसके आलावा हिंदी के प्रति लोगो में जागरूकता पैदा करना ,इसका प्रमुख उदेश्य में शामिल है। भारत के पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के द्वारा 10 जनवरी 2006 को हर वर्ष विश्व दिवस मनाने की घोषणा की गयी थी। और तब से इसे बड़े ही उत्साह के साथ मनाया जाता है।

हिंदी भाषा का डिजिटलीकरण :

वर्तमान युग प्रौद्योगिकी का है जब सभी क्षेत्रों को डिजिटल इंडिया प्रोग्राम के तहत उनका डिजिटलीकरण किया जा रहा है तो हिंदी का डिजिटलीकरण होना भी अत्यंत आवश्यक है। हिंदी केप्रचार -प्रसार के लिए अब गूगल ने भी हिंदी को एक विकल्प के तौर पर अपने सर्च में शामिल कर दिया है जिससे हिंदी भाषी लोग गूगल जैसे दुनिया के सबसे बड़े सर्च इंजन में किसी भी चीज को सर्च करने में आसानी होगी। इंटरनेट पर भी हिंदी भाषा में बहुत कंटेंट मौजूद है जिससे आप अपने जरूरत की चीजों को आसानी से ढूढ़कर पढ़ सकते है इसके आलावा कंप्यूटर ,मोबाइल आदि में भी हिंदी भाषा के विकल्प मौजूद है जिससे इनका इस्तेमाल करना आसान हो गया है।

यदि आप दूसरी भाषा का हिंदी में अनुवाद करना या सुनना चाहते है तो आप इसके लिए अनुवाद करने वाली ऐप्स को गूगल प्ले स्टोर या आईओएस स्टोर से डाउनलोड कर सकते है। इन ऐप्स में माइक्रोसॉफ्ट ट्रांसलेटर , हाई डिक्सनरी -फ्री लैंग्वेज ट्रांसलेशन डिक्सनरी ,गूगल ट्रांसलेट GOOGLE TRANSLATE आदि मौजूद है। इन ऐप्स की मदद से आप आसानी से दूसरी भाषाओं का हिंदी भाषा में ट्रांसलेशन कर सकते है। सके ये अन्य भारतीय भाषाओं में भी अनुवाद करने सक्षम है। सोशल नेटवर्क प्लेटफॉर्म पर भी आपको हिंदी भाषा का विकल्प मिल जाता है जिससे आप अपनी बात को दूसरो तक अपनी मात्र भाषा में लिखकर शेयर कर सकते है।

हिंदी दिवस का महत्व :

हम हिन्दी दिवस को उस दिन की याद में मानते है जिस दिन हिंदी को देश की राजभाषा बनाया गया था यानि 14 सितम्बर 1949 को। केंद्र सरकार व राज्य सरकार द्वारा हिंदी के विकास हेतु कई प्रकार के कार्यक्रम चलाये जा रहे है। इस अवसर पर कॉलेज व विद्यालय स्तर पर छात्र -छात्राओं को हिंदी के महत्व से अवगत कराया जाता है। इसके आलावा सरकारी कार्यालयों में अनेक विषयो पर हिंदी में व्याख्यान का आयोजन किया जाता है आज हमारे प्रधानमंत्री अपना हर संबोधन हिंदी में देते है जिससे हिंदी भाषा को देश में बढ़ावा मिले और उनके द्वारा कही गयी बात आम जनमानस तक आसानी से पहुंचे। इसके आलावा हमारे देश के मंत्रीगण विदेशों में जाकर भी हिंदी में भाषण देने पर जोर दे रहे हैं। यह इसलिए किया जा रहा है ताकि भारत के साथ-साथ विश्व स्तर पर भी हिंदी भाषा के महत्व समझा जाए और हिंदी को पहचान मिले ।

सरकार द्वारा किये गए इन प्रयासों से हिंदी बोलने वालों की संख्या में लगातार इजाफा होता दिख रहा है। बिहार हमारे देश का पहला राज्य था जिसने हिंदी को अपनी आधिकारिक भाषा के तौर पर अपनाया था। आज देश में हिंदी बोलने वालों की संख्या सबसे ज्यादा है। देश की जनता का एक बडा़ हिस्सा आज भी हिंदी बोलता है। इस बात को हमें हमेशा याद रखना चाहिये कि अपनी मात्र भाषा बोलने से न केवल हम अपनी संस्कृति से जुड़े रहते हैं आपसी प्रेम व भाईचारा भी बढ़ता है।

FAQ.

Q: हिंदी दिवस कब मनाया जाता है ?

ANS: हिंदी दिवस प्रत्येक वर्ष 14 सितंबर को मनाया जाता है।

Q : विश्व हिंदी दिवस World Hindi Day कब मनाया जाता है ?

ANS: विश्व हिंदी दिवस 10 जनवरी को मनाया जाता है।

Q : 12 वा हिंदी सम्मेलन कहां होगा ?

ANS : न्यूयॉर्क में प्रस्तावित

Q : हिंदी दिवस 14 सितंबर को क्या मनाया जाता है ?

ANS : हिंदी को 14 सितम्बर 1949 को सांवैधानिक रूप से राजभाषा घोषित किया गया था , इसीलिए तब से इस दिन को हिंदी दिवस के रूप में मनाया जाता है।

अन्य पोस्ट पढ़े :

1 – अंतरराष्ट्रीय बाघ दिवस के बारे में पढ़ें।




Social Share

Leave a Comment

जानिए रविंद्र जडेजा क्यों हुए वर्ल्ड कप से बाहर लाइगर फिल्म अभिनेत्री अनन्या पांडे फैक्ट मीराबाई चानू ने जीता बर्मिंघम कॉमनवेल्थ गेम्स में स्वर्ण पदक Actress Tara Sutaria Biography, Age, Height, Family, Moveis, Networth भारती और हर्ष पहली बार नजर आए अपने बेबी के साथ जानिए बेबी का नाम बॉलीवुड की हॉट एक्ट्रेस दिशा पाटनी के बारे में जाने