सादिया तारिक का जीवन परिचय,वुशु खिलाड़ी,माता, पिता, उम्र,कोच | Sadiya Tariq Biography in Hindi

Social Share

सादिया तारिक का जीवन परिचय,वुशु खिलाड़ी,माता, पिता, उम्र,कोच, जन्म, परिवार, शिक्षा ,गोल्ड मेडलिस्ट ,श्रीनगर जम्मू की रहने वाली, [ Sadiya Tariq Biography in Hindi] ( Wushu Player, Birth, Age, Faimly, Mother, Father, Education, Gold Medalist, resident of Srinagar Jammu, Coach )

सादिया एक भारतीय वुशु खिलाड़ी हैं। वुशु एक फाइटिंग गेम है। बता दे कि वे जम्मू कश्मीर की रहने वाली हैं। इन्होंने रूस के मास्को में हो रहे वुशु स्टार्स चैंपियनशिप में स्वर्ण पदक जीता है। इस चैंपियनशिप में भारत की ओर से 23 जूनियर और 15 सीनियर सहित 38 खिलाड़ियों ने भाग लिया। इन्होंने जूनियर नेशनल वूशु चैंपियनशिप में दो बार स्वर्ण पदक जीता है।

इन्हें फरवरी 2022 मैं मॉस्को वुशु स्टार्स चैंपियनशिप के लिए वूशु एसोसिएशन ऑफ इंडिया की तकनीकी समिति द्वारा शॉर्टलिस्ट किया गया है। इन्होने हाल ही में लवली प्रोफेशनल यूनिवर्सिटी जालंधर में 20वीं जूनियर नेशनल वुशु चैंपियनशिप में स्वर्ण पदक जीता है। जिसमें जम्मू कश्मीर की वुशु टीम, मेडल टैली में तीसरे स्थान पर रही।

इनके गोल्ड मेडल जीतने पर इन्हें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा बधाई दी गई और जम्मू कश्मीर के राज्यपाल द्वारा भी इन्हें इनके भविष्य की शुभकामनाएं दी गई। आज पूरा देश इन पर गर्व कर रहा है और इनके आगे के उज्जवल भविष्य की कामना कर रहा है। देश में लड़कों ने ही नहीं बल्कि लड़कियों ने भी खेल में नाम रोशन किया है। ये दो साल से जूनियर नेशनल चैंपियन हैं।

सादिया तारिक का जीवन परिचय

नाम (Name) सादिया तारिक
(Sadiya Tariq)
जन्म (Birth) 2007
जन्म स्थान (Birth place) जम्मू-कश्मीर
उम्र (Age) 15 वर्ष
गृहनगर (Hometown) जम्मू-कश्मीर
पेशा (Profession) भारतीय वुशु खिलाड़ी
पिता (Father’s Name) तारिक अहमद लोन
माता (Mother’s Name) माइमोना
राष्ट्रीयता (Nationality) भारतीय
कोच (Coach) रमीज
राष्ट्रीय कोच (National Coach) कुलदीप हांडू
शिक्षा (Education) 10 वीं कक्षा

सादिया तारिक का जन्म ,परिवार ,शिक्षा

इनका जन्म 2007 में जम्मू कश्मीर राज्य में हुआ है। यह मात्र 15 वर्ष की है।

इनके पिता का नाम तारीक अहमद लोन इंडिया टुडे ग्रुप में कैमरामैन हैं ,और इनकी माता का नाम मायमोना है।

इनकी शुरुआती शिक्षा जम्मू कश्मीर से ही हुई ,और 3 साल की उम्र में उन्होंने ताइक्वांडो क्लास ज्वाइन करी थी। उसके बाद इनका मन वूशु खेल में लगा और इन्होंने उसी में अपना करियर बनाने की सोच ली। अभी वे राजबाग श्रीनगर के प्रेजेंटेशन कॉन्वेंट स्कूल में 10 वीं कक्षा में पढ़ती हैं।

सादिया तारिक का प्रारंभिक जीवन

जब ये तीन साल की थीं जब उनके पिता तारिक अहमद लोन और मां माइमोना उन्हें ताईक्वांडो क्लास में डाला। माता-पिता चाहते थे कि उनकी बेटी एक दिन देश के लिए अंतरराष्ट्रीय स्तर पर खेले, लेकिन थोड़े दिन बाद सादिया को वूशु अच्छा लगा तो उन्होंने इसे अपना सपना बना लिया।

बीते कुछ सालों में श्रीनगर में पनपे हालातों और कोरोना के कारण उनकी तैयारियां बंद हो गई थीं। जब अकादमी बंद थी ,तो सादिया ने घर पर ही प्रैक्टिस की। इन्होने ऑन लाइन प्रशिक्षण भी शुरू किया था। वह अकादमी में ट्रेनिंग के लिए नहीं जा पाती थीं। उन्हें लगा कि वह कभी खेल भी पाएंगी या नहीं, लेकिन माता-पिता, उनके कोच रमीज और राष्ट्रीय कोच कुलदीप हांडू ने उनका हौसला बढ़ाया और आज वे स्वर्ण पदक जीत भी चुकी है।

वुशु खेल क्या है ?

वुशु खेल एक प्राचीन खेल है, जिसकी शुरुआत चीन में हुई। यह देखने में कुश्ती या मुक्केबाजी जैसा नजर आता है। इसमें ड्रेस में खिलाड़ी हाथों में ग्लव्स और सर पर हेलमेट पहनते हैं, जो मुक्केबाजी जैसा नजर आता है। वुशु एक फाइटिंग गेम है।

अन्य तथ्य :

  • सादिया वूशु में स्वर्ण जीतने वाली देश की दूसरी कश्मीरी बेटी बन गई हैं।
  • वे कहती हैं की जिन विपरीत परिस्थितियों में उन्होंने तैयारी की ,उससे उन्हें उम्मीद है कि वे कश्मीरी बेटियों के लिए वरदान साबित होंगी
  • उनका सपना है कि वे भविष्य में अच्छा प्रदर्शन करके प्रधानमंत्री से मिल पाएंगी।
  • सानशोउ के 48 किलो में जीतने वाली सादिया अब यूथ ओलंपिक में मैडल जीतने के लिए मेहनत करेंगी।
  • सादिया से पहले 2020 में कश्मीर की मुनाजा गाजी ने इसी चैंपियनशिप में स्वर्ण पदक जीतने वाली कश्मीरी महिला खिलाड़ी बनी थीं।
  • सादिया चाहती हैं कि कश्मीर में अगर एक मल्टीपरपरज हॉल उपलब्ध करा दिया जाए तो वहां खेलों को लेकर क्रांति आएगी।
  • वूशु चैम्पियनशिप भारतीय खेल प्राधिकरण के वार्षिक कैलेंडर ट्रेनिंग और कंपटीशन के स्वीकृत इवेंट में शामिल है।
  • सादिया तारिक ने वुशु चैंपियनशिप में कुल तीन फाइट लड़ीं और तीनों में कजाकिस्तान, चेक गणराज्य और रूस के अपने प्रतिद्वंदी को धूल चटाई।

FAQ :

Q : सादिया तारिक कौन है ?

Ans : एक भारतीय वुशु खिलाड़ी हैं।इसी चैंपियनशिप में उन्होंने 2022 में स्वर्ण पदक जीता है।

Q : सादिया तारिक के माता पिता कौन है ?

Ans :पिता – तारीकअहमद लोन ,माता- मायमोना है।

Q : सादिया तारिक की उम्र कितनी है ?

Ans :15 वर्ष

अन्य पोस्ट पढ़े :


Social Share

Leave a Comment

जानिए रविंद्र जडेजा क्यों हुए वर्ल्ड कप से बाहर लाइगर फिल्म अभिनेत्री अनन्या पांडे फैक्ट मीराबाई चानू ने जीता बर्मिंघम कॉमनवेल्थ गेम्स में स्वर्ण पदक Actress Tara Sutaria Biography, Age, Height, Family, Moveis, Networth भारती और हर्ष पहली बार नजर आए अपने बेबी के साथ जानिए बेबी का नाम बॉलीवुड की हॉट एक्ट्रेस दिशा पाटनी के बारे में जाने