संकेत सरगर का जीवन परिचय, वेटलिफ्टर, जन्म, उम्र, परिवार, नेटवर्थ, करियर | Sanket Sargar Biography In Hindi

Social Share

संकेत सरगर का जीवन परिचय, वेटलिफ्टर, जन्म, उम्र, परिवार, नेटवर्थ, करियर, पूरा नाम, हाइट, वेट, शिक्षा, इंस्टाग्राम, ट्विटर, राज्य, धर्म, जाति, प्रतिस्पर्धा, वाइफ, गर्लफ्रेंड, कोच, पदक [Sanket Sargar Biography In Hindi] (Weightlifter, Birth, Age, Family, Net Worth, Career, Full Name, Height, Weight, Education, Instagram, Twitter, State, Religion, Caste, Competition, Wife, Girlfriend, Coach, Medal)

संकेत महादेव सरगर एक भारतीय (वेटलिफ्टर) भारोत्तोलक हैं, जो पुरुषों के 55 किलोग्राम भार वर्ग में 256 किलोग्राम का राष्ट्रीय और राष्ट्रमंडल रिकॉर्ड रखते हैं। उन्होंने बर्मिंघम में 2022 राष्ट्रमंडल खेलों में कुल 248 किग्रा भार उठाकर देश को पहला सिल्वर मेडल दिलाया है। अपने अंतिम प्रयासों में से एक के दौरान सरगर ने खुद को भी चोटिल कर लिया।

संकेत सरगर ने जीता राष्ट्रमंडल खेल 2022 (बर्मिंघम) में सिल्वर मेडल

संकेत सरगर का जीवन परिचय

(Sanket Sargar Biography In Hindi)

नाम (Name) संकेत सरगर (Sanket Sargar)
पूरा नाम (Full Name) संकेत महादेव सरगर
(Sanket Mahadev Sargar)
जन्म (Birth) 16 अक्टूबर 2000
जन्म स्थान (Birth Place) सांगली, नागपुर, महाराष्ट्र, भारत
गृहनगर (Hometown) सांगली, नागपुर, महाराष्ट्र, भारत
राज्य (State) महाराष्ट्र
उम्र (Age) 21 वर्ष (2022)
पेशा (Profession) वेटलिफ्टर
प्रतिस्पर्धा (Event) 55 kg
हाइट (Height) 5 फीट, 4 इंच
वेट (Weight) 55 Kg
वैवाहिक स्थिति (Marital Status) अविवाहित
शिक्षा (Education) शिवाजी यूनिवर्सिटी, कोल्हापुर
कोच (Coach) मयूर सिंहसाने,
विजय शर्मा (मुख्य कोच)
पुरस्कार (Awards)
रैंकिंग (Ranking)
धर्म (Religion) हिंदू
जाति (Caste)
राष्ट्रीयता (Nationality) भारतीय

संकेत सरगर का परिवार (Sanket Sargar Family)

पिता (Father’s Name) महादेव सरगर
माता (Mother’s Name) राजेश्वरी
बहन (Sister) काजोल
भाई (Brother)
गर्लफ्रेंड (Girlfriend)
वाइफ (Wife) अविवाहित

संकेत सरगर का जन्म, परिवार, शिक्षा

इनका जन्म 16 अक्टूबर 2000 को सांगली, नागपुर, महाराष्ट्र, भारत में हुआ।

संकेत के पिता महादेव सरगर 1990 के दशक की शुरुआत में ग्रामीण इलाकों से सांगली आए थे। उन्होंने पहले एक पान की दुकान खोलने के लिए पैसे बचाने से पहले एक गाड़ी से फल बेचे और फिर एक चाय और नाश्ते की दुकान खोली। संकेत की छोटी बहन काजोल सरगर चौथे खेलो इंडिया यूथ गेम्स की पहली गोल्ड मेडलिस्ट बनीं।

इन्होंने अपनी शिक्षा शिवाजी यूनिवर्सिटी, कोल्हापुर से प्राप्त की। वह इतिहास के छात्र रहे हैं। इन्होने कक्षा 9 में एक संभागीय प्रतियोगिता में भाग लिया, और इसके लिए वास्तव में कठिन प्रशिक्षण के बिना इन्हे रजत पदक मिला। संकेत बताते हैं की मुझे लगा कि अगर मैं थोड़ी और मेहनत करता तो मुझे सोना मिल जाता।

कोच मयूर सिंहसाने 2017 से संकेत को प्रशिक्षण दे रहे हैं।

संकेत सरगर नेटवर्थ

नेटवर्थ अभी ज्ञात नहीं है

संकेत सरगर का करियर

संकेत बताते हैं की ”जिस समय संकेत ने गुरुराजा को गोल्ड कोस्ट खेलों में रजत पदक जीतते हुए देखा, उस समय वे पहले से ही भारोत्तोलक के रूप में पांच साल से प्रशिक्षण ले रहे थे। भारोत्तोलक बनने का उनका विचार नहीं था। यह उनके पिता महादेव सरगर का सपना था। मैं हमेशा से एक खिलाड़ी बनना चाहता था। लेकिन मुझे ऐसा मौका कभी नहीं मिला। मैं एक गाँव से था, और मेरी प्राथमिकता जीविकोपार्जन की थी।”

वे कहते है की जब वे 12 साल के थे तो संकेत के पिता उन्हें दिग्विजय व्यायामशाला ले गए। “पापा का सपना था कि वह खेलकूद खेलें, लेकिन वह ऐसा नहीं कर सके। हमारी दुकान के पास एक जाने-माने कोच के साथ वेटलिफ्टिंग जिम था। उस समय मुझे नहीं पता था कि मुझे वेटलिफ्टर बनना है या नहीं। बात बस इतनी सी थी कि एक दिन मेरे पिता मुझे जिम ले गए, और अगले दिन मुझे बताया गया कि मुझे सुबह 6.30 बजे ट्रेनिंग के लिए आना है।

उनके पिता भारोत्तोलन कोच नाना सिंहसाने के प्रशंसक थे। सिंहसाने द्वारा संचालित दिग्विजय भारोत्तोलन केंद्र, उनकी चाय की दुकान के पास स्थित था। संकेत ने 2012 में केंद्र में दाखिला लिया।

संकेत ने महाराष्ट्र जूनियर भारोत्तोलन चैम्पियनशिप में 49 किलोग्राम भार वर्ग में कुल 194 किलोग्राम भारोत्तोलन के साथ स्वर्ण पदक जीता, जिसमें स्नैच में 86 किलोग्राम और 2017 में क्लीन एंड जर्क में 108 किलोग्राम शामिल थे। 2018 में चैंपियन और उसके बाद उसी वर्ष विजाग में जूनियर राष्ट्रीय युवा चैम्पियनशिप में कांस्य पदक जीता।

वर्ष 2021 कॉमन वेल्थ वेट लिफ्टिंग चैंपियनशिप जो की ताशकेंट में हुई थी, उसमे संकेत ने वेटलिफ्टिंग में स्वर्ण पदक हासिल किया था। उन्होंने ये पदक 55 kg वर्ग में हासिल किया था। संकेत के नाम राष्ट्रीय और कामनवेल्थ में सबसे बड़ा 256 Kg का कीर्तिमान 55 Kg वर्ग में।

2021अक्टूबर में संकेत सरगर ने एनआईएस पटियाला में भारत का प्रतिनिधित्व किया था। इसके अलावा उन्होंने खेलों इंडिया यूथ गेम्स 2020 और खेलो इंडिया यूनिवर्सिटी गेम्स 2020 में स्वर्ण पदक जीता था।

उन्होंने बर्मिंघम में 2022 राष्ट्रमंडल खेलों में कुल 248 किग्रा भार उठाकर रजत पदक जीता। सांगली जिला भारोत्तोलन संघ ने बर्मिंघम में संकेत सरगर के रजत पदक का जश्न मनाया।इनके पिता महादेव का कहना है कि संकेत का रजत पदक परिवार संचालित चाय की दुकान पर प्रदर्शित किया जाएगा, ठीक वैसे ही जैसे उनकी बहन काजोल का खेलो इंडिया मेडल था।

दिसंबर 2021 में ताशकंद में राष्ट्रमंडल भारोत्तोलन चैंपियनशिप में, उन्होंने 113 किलोग्राम भार उठाकर स्वर्ण पदक जीता, जिससे उन्हें स्नैच श्रेणी में एक नया राष्ट्रीय रिकॉर्ड बनाने में भी मदद मिली।

दिसंबर में हुए राष्ट्रमंडल चैंपियनशिप में स्वर्ण जीतने वाले और तीन बार के राष्ट्रीय चैंपियन संकेत महादेव स्वभाव से काफी शर्मीले हैं। इस साल फरवरी में हुए सिंगापुर वेटलिफ्टिंग इंटरनेशनल में संकेत ने 256 किग्रा (स्नैच में 113 किग्रा और क्लीन एंड जर्क में 143 किग्रा) उठाकर कॉमनवेल्थ और राष्ट्रीय रिकॉर्ड तोड़ा था। पिछली बार राष्ट्रमंडल खेलों में सतीश शिवलिंगम और रंगला वेंकट राहुल ने भारत के लिए स्वर्ण पदक जीता था। हालांकि संकेत स्वर्ण पदक के उस क्रम को जारी रखने में कामयाब नहीं हुए।

संकेत सरगर कॉमनवेल्थ गेम्स 2022

इंग्लैंड में खेले जा रहे कॉमनवेल्थ गेम्स 2022 के दूसरे दिन भारत के मेडल का खाता खुल गया है। शनिवार को वेटलिफ्टर संकेत महादेव सरगर ने बर्मिंघम राष्ट्रमंडल खेलों में 55 KG वेट कैटेगरी में देश को पहला सिल्वर मेडल दिलाया है। स्नैच के पहले प्रयास में ही संकेत ने 107 किग्रा का वजन उठाया। जिसके बाद दूसरे प्रयास में उन्होंनें 111 किग्रा और तीसरे प्रयास में 113 किग्रा का वजन उठाया।

संकेत ने क्लीन एंड जर्क के पहले प्रयास में 135 KG का वजन उठाया है लेकिन, उनका दूसरा और तीसरा प्रयास विफल रहा। वे 248 KG के साथ दूसरे स्थान पर रहे। मलेशियाई वेटलिफ्टर ने इस कैटेगरी में कुल 249 KG वेट उठाया और सिर्फ 1 KG के अंतर से संकेत गोल्ड मेडल जीतने से चुक गए। श्रीलंका की दिलंका इसुरु कुमारा ने 225 किग्रा (105 किग्रा + 120 किग्रा) उठाकर कांस्य पदक जीता।

संकेत सरगर की उपलब्धि

  • IWF विश्व चैम्पियनशिप 2021 (प्रतिभागी)
  • राष्ट्रमंडल सीनियर चैम्पियनशिप 2021 (प्रतिभागी)
  • कॉमन वेल्थ गेम्स 2022 बर्मिंघम (भारोत्तोलन में पुरुषों की 55 किलोग्राम प्रतिस्पर्धा में रजत पदक)

संकेत सरगर सोशल मीडिया

Instagram Click Here
Twitter

FAQ :

Q : संकेत सरगर कौन है ?

Ans : संकेत सरगर एक भारतीय वेटलिफ्टर (भारोत्तोलक) है। इनका जन्म सांगली नागपुर ,महाराष्ट्र में हुआ था। इन्होंने बर्मिघम (लंदन ) में चल रहे राष्ट्रमंडल खेलों में देश को पहला सिल्वर मेडल जिताया।

Q : संकेत सरगर की उम्र कितनी है ?

Ans : 21 वर्ष (2022)

Q : संकेत सरगर कॉमनवेल्थ गेम्स 2022 में कौन सा मेडल जीता ?

Ans : सिल्वर मेडल

Q : संकेत सरगर का संबंध किस खेल से है ?

Ans : वेटलिफ्टर (भारोत्तोलक)

q : संकेत सरगर कितने भार वर्ग में प्रतिस्पर्धा करते हैं ?

Ans : 55 किलोग्राम

अन्य पोस्ट पढ़े :


Social Share

Leave a Comment

जानिए रविंद्र जडेजा क्यों हुए वर्ल्ड कप से बाहर लाइगर फिल्म अभिनेत्री अनन्या पांडे फैक्ट मीराबाई चानू ने जीता बर्मिंघम कॉमनवेल्थ गेम्स में स्वर्ण पदक Actress Tara Sutaria Biography, Age, Height, Family, Moveis, Networth भारती और हर्ष पहली बार नजर आए अपने बेबी के साथ जानिए बेबी का नाम बॉलीवुड की हॉट एक्ट्रेस दिशा पाटनी के बारे में जाने