रवि कुमार दहिया का जीवन परिचय, भारतीय पहलवान, कद, वजन, पत्नी, मेडल |Ravi Kumar Dahiya Biography In Hindi

Social Share

रवि कुमार दहिया का जीवन परिचय, भारतीय पहलवान ,ओलंपिक 2021, रैंकिंग ,मेडल ,धर्म ,जाति [Ravi Kumar Dahiya Biography in Hindi] (Indian Wrestler, Birth, Hometown, State, Tokyo Olympic 2021 Silver Medalist, Height, Weight, Wife, Ranking, Caste, Religion, Medals )

भारतीय पहलवान रवि कुमार दहिया एक बेहतरीन रेसलर है ,इन्होंने भारत के लिए मेडल भी जीते हैं। ये रेसलिंग में भारत का प्रतिनिधित्व करते हैं, इनके रेसलिंग की तकनीक दूसरे खिलाड़ियों से काफी अलग है ,इसीलिए ये भारत का नाम रोशन कर रहे हैं। इस वर्ष टोक्यो ओलंपिक 2021 में इन्होंने हिस्सा लिया और भारत का प्रतिनिधित्व किया। ये फाइनल तक पहुंच गए हैं, लेकिन इसमें इन्हें हार का सामना करना पड़ा और सिल्वर मेडल से ही संतोष करना पड़ा। हम इनके उज्जवल भविष्य की कामना करते हैं, कि ये भविष्य में भारत को गोल्ड मेडल अवश्य जिताएंगे।

रवि कुमार ने जीता बर्मिंघम कॉमनवेल्थ गेम्स 2022 में स्वर्ण पदक

Contents hide

बर्मिंघम कॉमनवेल्थ गेम्स 2022 में भारत के रवि कुमार ने गोल्ड मेडल जीता। उन्होंने फाइनल में अपने नाइजीरियाई प्रतिद्वंदी को 10-0 से एकतरफा हराते हुए यह जीत हासिल की। आपको बता दें कि रवि ने 57 किलोग्राम भार वर्ग में यह उपलब्धि हासिल की।

रवि कुमार दहिया का जीवन परिचय

नाम (Name)रवि कुमार दहिया
(Ravi Kumar Dahiya)
निक नेम
(Nick Name)
शांत तूफान
जन्म (Birth)12 दिसंबर 1998
जन्म स्थान
(Birth Place)
नाहरी, सोनीपत जिला ,हरियाणा
गृहनगर
(Hometown)
हरियाणा , भारत
पिता (Father’s Name)राकेश दहिया
गुरु (Coach)सतपाल
पूर्व कोच वीरेंद्र कुमार
मौजूदा कोचप्रवीण दहिया
उम्र (Age)23 वर्ष
खेल (Sports)फ्रीस्टाइल रैसलिंग
वजन (Weight)57 kg
लंबाई (Height)5 फिट, 7 इंच (170 सेमी)
मैरिज स्टेटसअविवाहित
पसंदीदा रेसलरसुशील कुमार
जाति (Caste)जाट हरियाणवी
धर्म (Religion)हिंदू
राष्ट्रीयता (Nationality)भारतीय

रवि कुमार दहिया का जन्म और उम्र :

रवि कुमार दहिया का जन्म भारत के राज्य हरियाणा, जिला सोनीपत के नाहरी नामक गांव में 12 दिसंबर 1998 को हुआ। इस समय इनकी उम्र 23 वर्ष हैं। इन्होंने बहुत ही कम उम्र में पहलवानी करके देश का नाम रोशन किया है।

शिक्षा (Education ):

रवि दहिया ने अपनी प्रारंभिक शिक्षा हरियाणा के सोनीपत जिले के गवर्नमेंट स्कूल से पूरी करी। उसके बाद उन्होंने ग्रेजुएशन बी.ए सब्जेक्ट से किया है।

प्रारंभिक जीवन और पारिवारिक परिचय :

रवि कुमार दहिया एक साधारण परिवार से हैं। इनके पास जमीन ना होने के कारण ये जीवन यापन करने के लिए दूसरे की जमीन को किराए में लेकर काम करते थे। इनके पिता अपने गांव से 60 किलोमीटर दूर अखाड़े में दूध और दही देने आते थे। वे 12 वर्ष तक ऐसे ही करते रहे ,अब उनकी मेहनत रंग लाई है ,क्योंकि उनका बेटा रवि दहिया रेसलिंग में उनका नाम रोशन कर रहा है। इनका जीवन बहुत ही संघर्ष भरा रहा इसी कारण इन्होने बहुत ही मेहनत और लगन से आज इस मुकाम को हासिल किया है।

रवि कुमार दहिया का कैरियर और अभ्यास :

इन्होंने अपने करियर की शुरुआत 22 साल की उम्र में कर दी थी। रवि 12 साल की उम्र में सोनीपत के गांव नाहारी से दिल्ली के छत्रसाल स्टेडियम में आए और वहां इन्होंने पहलवानी की ट्रेनिंग ली ,और वहां अपने गुरु सतपाल तथा पूर्व कोच विरेंद्र कुमार से ट्रेनिंग लेते रहे। यहां से ट्रांसफर होने के बाद वह अपने गुरु सतपाल और दो बार के ओलंपिक पदक विजेता सुशील कुमार और कोच प्रवीण दहिया के साथ अभ्यास करते रहे। 2015 में अंडर 23 विश्व चैंपियनशिप में रजत पदक जीता, जिससे उनकी प्रतिभा झलकती हुई दिखाई दी।

सुशील कुमार और योगेश्वर दत्त के बाद रवी दहिया के ही चर्चे हो रहे हैं ,और रवि भारत के नए स्टार बन गए हैं। वह 6 से 8 घंटे तक अभ्यास करते थे। इन्होने पहला मैच वर्ल्ड चैंपियनशिप में खेला था इसमें उन्होंने ईरान के खिलाड़ी व एशियन चैंपियन रिजा अत्रीनाधारची को हराकर कांस्य पदक जीता था। उसके बाद वर्ल्ड 2015 में जूनियर वर्ल्ड चैंपियनशिप में अच्छा प्रदर्शन किया और सिल्वर मेडल जीता।

इन्होने सीनियर नेशनल में भी सेकंड पोजीशन हासिल की। इन्होने 57 किलोग्राम भार वर्ग में अपने आप को एक बेहतर खिलाड़ी के रूप में साबित किया। इन्होंने सीनियर रेसलर खिलाड़ी उत्कर्ष काले और संदीप तोमर को भी मात दे दी ,इसके कारण उन्हें टोक्यो ओलंपिक में जाने का मौका मिला।

रवि के गुरु सतपाल द्वारा कही गई बातें :

रवि दहिया के गुरु सतपाल ने बताया कि रवि टोक्यो के लिए क्वालीफाई कर चुके थे। लेकिन हमारे लिए सबसे बड़ी चुनौती यह थी कि उसे अखाड़े में अभ्यास के दौरान चोट न लगे और वह कोरोनावायरस से बचा रहे। इसलिए हमने उसे गांव नहीं जाने दिया और 6 से 8 घंटे तक अभ्यास कराया। उसके वजन और वजन से ज्यादा के भी पहलवान अभ्यास के लिए लाए गए। जब रवि छत्रसाल आए तब मैंने ही उसका चयन किया था क्योंकि मुझे पता था कि ,यह लड़का ओलंपिक में पदक अवश्य जीतेगा। टोक्यो जाने से पहले मैंने उससे कहा था कि कोई भी दबाव मत लेना।

टोक्यो ओलंपिक 2021 में रवि दहिया का प्रदर्शन :

रवि कुमार दहिया ने टोक्यो ओलंपिक 2021 में पुरुषों की फ्रीस्टाइल कुश्ती के 57 किलोग्राम भार वर्ग में पहुंचने में सफलता प्राप्त की। इन्होंने ओलंपिक के क्वार्टर फाइनल में बुलगारीया के रेसलर जॉर्डी वेंगेलोव को 14 – 4 से बड़ी हार करवाई,और कजाकिस्तान के नुरिस्लाम सनायेव को सेमीफाइनल मैच में हराया और फाइनल में स्थान बनाया। लेकिन फाइनल में ये जीत हासिल नहीं कर पाए और सिल्वर मेडल अपने नाम कर लिया। हमें इस बात की बहुत खुशी है और भारत को गर्व है कि रवि कुमार दहिया ने रजत पदक ओलंपिक में जीत लिया और अपने परिवार का नाम रोशन किया और देश का भी नाम रोशन किया है।

रवि कुमार दहिया नेट वर्थ (Ravi Kumar Dahiya Net Worth)

रवि कुमार दहिया की नेट वर्थ 2-4 मिलियन डॉलर के लगभग है।

रवि कुमार दहिया द्वारा प्राप्त किए गए मेडल और पदक :

वर्षप्रतियोगिताभार वर्गपदक
2015अंडर 23 रेसलिंग चैंपियनशिप 57 kgरजत
2019वर्ल्ड चैंपियनशिप57 kgकांस्य
2022बर्मिंघम कॉमनवेल्थ गेम्स57 kgस्वर्ण

रवि कुमार दहिया की विश्व रैंकिंग :

वर्ल्ड चैंपियनशिप3
वर्ल्ड अंडर 23 कैटेगरी 2
एशियन चैंपियनशिप1

एशियाई कुश्ती चैंपियनशिप 2022 में लगाई स्वर्णिम हैट्रिक

मंगोलिया के उड़ानबटेर में आयोजित एशियाई कुश्ती चैंपियनशिप 2022 में भारत के पहलवान रवि दहिया ने तीन स्वर्ण पदक जीतने में कामयाबी हासिल की। रवि ने 57 किलोग्राम भार वर्ग में कजाकिस्तान के रखत कालजान के खिलाफ शानदार तकनीक का प्रदर्शन करते हुए फाइनल मुकाबले में जीत हासिल की।

आपको बता दें कि रवि कुमार से पहले किसी भी भारतीय फ्रीस्टाइल पहलवान ने अब तक एशियाई चैंपियनशिप में तीन स्वर्ण पदक नहीं जीते थे।

सोशल मीडिया (Social Media)

InstagramClick Here
TwitterClick Here

FAQ :

Q : रवि कुमार दहिया कौन है ?

Ans : रवि कुमार दहिया एक भारतीय रेसलर या पहलवान है।

q : रवि कुमार दहिया का जन्म कब और कहां हुआ ?

Ans : रवि कुमार दहिया का जन्म 12 दिसंबर 1998 को हरियाणा के सोनीपत जिले के नाहरी गांव में हुआ।

q : रवि कुमार दहिया का धर्म ,जाति, उम्र ,वजन, रैंकिंग, क्या है ?

Ans : रवि कुमार दहिया का धर्म- हिंदू , जाति- जाट हरयाणवी, उम्र- 23 वर्ष , वजन -57 kg , वर्ल्ड चैंपियनशिप रैंकिंग – तीसरी , वर्ल्ड अंडर 23 कैटेगरी -दूसरी , एशियन चैंपियनशिप -प्रथम रैंकिंग है।

Q : रवि दहिया के पिता का नाम क्या है ?

Ans : रवि दहिया के पिता का नाम राकेश दहिया है।

Q : रवि दहिया के कोच और गुरु का नाम क्या है ?

Ans : रवि दहिया के पूर्व कोच का नाम वीरेंद्र कुमार है ,गुरु सतपाल हैं , मौजूदा कोच प्रवीण दहिया है।

Q : रवि कुमार ने बर्मिंघम कॉमनवेल्थ गेम्स 2022 में कौन सा पदक जीता ?

Ans : स्वर्ण पदक

अन्य पोस्ट पढ़े :

1 – मीराबाई चानू का जीवन परिचय :

2 – अतनु दास का जीवन परिचय :

3 – स्नेह राणा का जीवन परिचय :

4 – वंदना कटारिया का जीवन परिचय :


Social Share

Leave a Comment

T20 में शतक जड़ने वाले भारतीय बल्लेबाज की लिस्ट शुभमन गिल ने लगाया शानदार शतक भारत ने जीता अंडर-19 क्रिकेट महिला विश्व कप ICC के वर्ष के सर्वश्रेष्ठ T20 क्रिकेटर बने सूर्यकुमार भारतीय क्रिकेटर जिन्होंने बॉलीवुड अभिनेत्रियों से की शादी केएल राहुल और अथिया शेट्टी आज करेंगे शादी वनडे में दोहरा शतक लगाने वाले भारतीय खिलाड़ी Shubman Gill ने लगाया पहला एकदिवसीय दोहरा शतक