मनीष सिसोदिया का जीवन परिचय, उप मुख्यमंत्री दिल्ली, जन्म, उम्र, परिवार, वाइफ, नेटवर्थ | Manish Sisodia Biography in Hindi

Social Share

मनीष सिसोदिया का जीवन परिचय, उप मुख्यमंत्री दिल्ली, जन्म, उम्र, परिवार, वाइफ, नेटवर्थ, बच्चे, राजनीतिक करियर, शिक्षा, जाति, ट्विटर, इंस्टाग्राम, ईमेल आईडी, मनीष सिसोदिया करंट न्यूज़ [Manish Sisodia Biography in Hindi] (Deputy Chief Minister of Delhi, Birth, Age, Family, Wife, Net Worth, Children, Political Career, Education, Caste, Twitter, Instagram, Email ID, Manish Sisodia Current News)

मनीष सिसोदिया एक भारतीय राजनीतिज्ञ और फरवरी 2015 से दिल्ली के उपमुख्यमंत्री हैं। वह आम आदमी पार्टी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी समिति के सदस्य हैं और आम आदमी पार्टी के संस्थापक सदस्य भी हैं। वह पटपड़गंज निर्वाचन क्षेत्र से (लगातार तीसरी बार) विधायक भी हैं।

दिल्ली के एनसीटी सरकार में उनके पास शिक्षा, उच्च शिक्षा, तकनीकी शिक्षा, लोक निर्माण विभाग, श्रम, वित्त, योजना, उत्पाद शुल्क, जीएसटी, सतर्कता, सेवाएं, पर्यटन, भूमि और भवन, कला, संस्कृति और भाषा विभाग है।

2016-17 के अपने बजट भाषण में सिसोदिया ने कहा कि चुनाव शिक्षा और स्वास्थ्य के एजेंडे पर लड़ा जाना चाहिए न कि जाति और धर्म पर।

वे 2013 और 2014 के बीच दिल्ली के एनसीटी सरकार में कैबिनेट मंत्री थे। 2013 में दिल्ली विधानसभा के लिए चुने जाने से पहले सिसोदिया एक सामाजिक कार्यकर्ता और पत्रकार थे। सिसोदिया ने एक किताब लिखी है, ”शिक्षा: एक शिक्षा मंत्री के रूप में मेरे प्रयोग” जो दिल्ली में शिक्षा सुधारों का वर्णन करता है और शिक्षा परिवर्तन पर प्रशंसा प्राप्त करता है।

मनीष सिसोदिया करंट न्यूज़ (Manish Sisodia Current News)

Contents hide
4 मनीष सिसोदिया का परिवार (Manish Sisodia family)

जून 2022 में विपक्षी दल भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के सदस्यों ने दिल्ली सरकार की भ्रष्टाचार विरोधी शाखा (एसीबी) के पास स्कूलों और कक्षाओं के निर्माण के बारे में सिसोदिया के खिलाफ शिकायत दर्ज की। जुलाई 2022 में भ्रष्टाचार विरोधी प्राधिकरण दिल्ली लोकायुक्त भी जांच कर रहा है।

जुलाई 2022 में दिल्ली के उपराज्यपाल विनय कुमार सक्सेना (भाजपा द्वारा नियुक्त) ने दिल्ली सरकार की आबकारी नीति 2021-22 की जांच के लिए केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) की सिफारिश की थी। सीबीआई मामले की जांच कर रही है। जवाब में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने केंद्र सरकार पर “दिल्ली की शिक्षा और स्वास्थ्य क्रांति को पटरी से उतारने” के लिए सीबीआई का दुरुपयोग करने का आरोप लगाया।

शराब घोटाले में CBI ने शनिवार 20 अगस्त 2022 को मनीष सिसोदिया के घर समेत दूसरे ठिकानों पर छापेमारी की है। CBI ने कुल मिलाकर 7 राज्यों में 21 ठिकानों पर छापेमारी की है। उनपर आरोप है कि उन्होने शराब कानुन में बदलाव करके ठेकेदारों को फायदा पहुँचाया है। 14 घंटे से अधिक समय तक सीबीआई की टीम ने मनीष सिसोदिया के घर पर जांच की।

मनीष सिसोदिया का जीवन परिचय

(Manish Sisodia Biography in Hindi)

दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया इमेज क्रेडिट: इंस्टाग्राम
नाम (Name) मनीष सिसोदिया (Manish Sisodia)
जन्म (Birth) 5 जनवरी 1972
जन्म स्थान (Birth Place) उत्तर प्रदेश के हापुड़ जिले के फगौता गाँव
गृहनगर (Hometown) हापुड़, उत्तर-प्रदेश
उम्र (Age) 50 वर्ष
हाइट (Height) 5 फुट 8 इंच
वेट (Weight) 75 kg
पेशा (Profession) राजनीतिज्ञ
राजनीतिक पार्टी (Political Party) आम आदमी पार्टी
वर्तमान में पद कैबिनेट मंत्री, दिल्ली के उपमुख्यमंत्री
शिक्षा मंत्री (दिल्ली सरकार)
विधानसभा सीट पटपड़गंज
स्कूल (School) हापुड़ जिले के फगौता गाँव, सरकारी स्कूल
कॉलेज (College) भारतीय विद्या भवन कॉलेज, दिल्ली
शैक्षिक योग्यता
(Educational Qualification)
डिप्लोमा इन जर्नलिज्म
वैवाहिक स्थिति (Marital Status) विवाहित
जाति (Caste) क्षत्रिय (राजपूत)
धर्म (Religion) हिंदू
नागरिकता  (Nationality) भारतीय

मनीष सिसोदिया का परिवार (Manish Sisodia family)

पिता (Father Name) धर्मपाल सिसोदिया (अध्यापक)
माता (Mother Name) ज्ञात नहीं
पत्नी (Wife) सीमा सिसोदिया
बेटा (Son) मीर सिसोदिया

मनीष सिसोदिया का जन्म, परिवार, शिक्षा

मनीष सिसोदिया का जन्म 5 जनवरी 1972 को उत्तर प्रदेश के हापुड़ जिले के फगौता गाँव के एक राजपूत परिवार में हुआ था।

इनके पिता का नाम धर्मपाल सिसोदिया है जो अध्यापक है। इनकी माता का नाम ज्ञात नहीं है। इनका विवाह सीमा सिसोदिया से हुआ और इनका एक बेटा भी है जिसका नाम मीर सिसोदिया है।

उनका दाखिला अपने गाँव के सरकारी स्कूल में हुआ। इन्होंने भारतीय विद्या भवन कॉलेज दिल्ली से जर्नलिज्म में डिप्लोमा किया। उन्होंने पत्रकारिता में डिप्लोमा पूरा करने के बाद एक पत्रकार के रूप में अपने करियर की शुरुवात की।

मनीष सिसोदिया का राजनीतिक करियर (Political Career)

पत्रकारिता में डिप्लोमा पूरा करने के बाद इन्होंने एक पत्रकार के रूप में अपना करियर शुरू किया। 1993 में उन्हें भारतीय विद्या भवन द्वारा सम्मानित किया गया। मनीष सिसोदिया ने अपने शुरुआती करियर के दौरान एफएम रेडियो स्टेशन में रेडियो जॉकी के रूप में भी काम किया। उन्होंने 1996 में ऑल इंडिया रेडियो के लिए “ज़ीरो ऑवर” जैसे कई कार्यक्रमों की मेजबानी की और फिर 1997 और 2005 के बीच एक रिपोर्टर, समाचार निर्माता और समाचार पाठक के रूप में ज़ी न्यूज़ के लिए काम किया।

औपचारिक रूप से पत्रकारिता छोड़ने के बाद सिसोदिया ने केजरीवाल के साथ ”कबीर” की स्थापना की जो एक गैर-लाभकारी संस्था है। जिसने सरकारी अधिकारियों और लोगों के साथ जन सुनवाई का आयोजन किया। वह उस समूह के प्रमुख सदस्यों में से एक थे जिसने सूचना का अधिकार अधिनियम का मसौदा तैयार किया था। वे ‘अपना पन्ना’ नामक हिन्दी मासिक पत्र के सम्पादक हैं।

इसके बाद सिसोदिया 2011 के अन्ना हजारे के नेतृत्व वाले ”इंडिया अगेंस्ट करप्शन” आंदोलन में एक प्रमुख भागीदार बन गए। जिसने जन लोकपाल बिल की मांग की। विरोध प्रदर्शनों में शामिल होने के कारण इन्हें जेल भी हुई थी। मनीष सिसोदिया पर सीएए के विरोध के दौरान जामिया मिल्लिया इस्लामिया के पास हिंसा से संबंधित ट्विटर पर फर्जी खबरें फैलाने का आरोप है। दिल्ली कोर्ट ने इन्हे उपरोक्त मामले में क्लीन चिट देने से इनकार किया।

सिसोदिया आम आदमी पार्टी (आप) के प्रमुख संस्थापक सदस्यों में से एक थे। वे इसकी राजनीतिक मामलों की समिति के सदस्य बने। उन्हें दिसंबर 2013 के दिल्ली विधानसभा चुनाव में विधान सभा के सदस्य के रूप में चुना गया था। उन्होंने पूर्वी दिल्ली के पटपड़गंज निर्वाचन क्षेत्र में भारतीय जनता पार्टी के उम्मीदवार नकुल भारद्वाज को 11,476 मतों से हराया था।

फरवरी 2015 के दिल्ली विधानसभा चुनाव में (जिसके परिणामस्वरूप AAP की भारी जीत हुई) वह फिर से पटपड़गंज से चुने गए। उन्होंने भारतीय जनता पार्टी के विनोद कुमार बिन्नी को 28,761 से अधिक मतों से हराया। 2020 के दिल्ली विधान सभा चुनाव में उन्होंने फिर से भाजपा उम्मीदवार रविंदर सिंह नेगी को 3000 से अधिक मतों से हराया।

मनीष सिसोदिया के अंतर्गत आने वाले विभाग

वित्त, शिक्षा, पर्यटन, पीडब्ल्यूडी, श्रम, योजना, भूमि और भवन, जागरूकता, सेवाएं, कला, संस्कृति, भाषा

दिल्ली के शिक्षा मंत्री के रूप में

जब आम आदमी पार्टी दिल्ली में सत्ता में आई तो सिसोदिया ने बीमार सार्वजनिक शिक्षा प्रणाली में सुधार लाने का फैसला किया। 2015 में दिल्ली के वित्त मंत्री के रूप में उन्होंने जो पहला निर्णय लिया उनमें से एक सार्वजनिक शिक्षा कार्यक्रम के लिए धन को दोगुना करना था। तब से हर साल दिल्ली सरकार ने अपने कुल बजट का एक चौथाई शिक्षा के लिए आवंटित किया है। जिससे यह देश में सबसे अधिक अनुपात है।

शिक्षा सुधार हेतु तकनीक-आधारित शिक्षण सहायता से सुसज्जित आधुनिक कक्षाएं, और फुटबॉल के मैदान, फील्ड हॉकी टर्फ, सभागार और विज्ञान प्रयोगशालाएं स्थापित की गई। दिल्ली में माता-पिता के नेतृत्व वाली स्कूल प्रबंधन समितियाँ (स्कूल बोर्ड) भी हैं जो उन समुदायों के भीतर जवाबदेही संरचनाएँ बनाती हैं जिन्हें स्कूल सेवा देता है। दिल्ली सरकार ने कई मेगा पीटीएम (अभिभावक शिक्षक बैठकें) सफलतापूर्वक आयोजित की हैं जो छात्रों के लिए शिक्षकों और अभिभावकों को सार्थक बातचीत में शामिल होने के लिए एक स्थान प्रदान करती हैं।

सिसोदिया ने नए जमाने के पाठ्यक्रम जैसे हैप्पीनेस करिकुलम और एंटरप्रेन्योरशिप माइंडसेट करिकुलम और देशभक्त करिकुलम के साथ प्रयोग किया है, जो छात्रों में मूल्य और कौशल पैदा करते हैं और उन्हें एक खुशहाल, सार्थक और उत्पादक जीवन जीने के लिए तैयार करते हैं। दिल्ली के सभी सरकारी और कुछ निजी स्कूलों में पाठ्यक्रम लागू किया जा रहा है ताकि जिम्मेदार नागरिक बनते हुए छात्रों को भावनात्मक और पेशेवर रूप से स्वस्थ बनाकर उनके बीच सही मानसिकता पैदा की जा सके।

सिसोदिया के प्रयासों के से दिल्ली की शिक्षा प्रणाली में कई सकारात्मक बदलाव देखने को मिले हैं। 2016 के बाद से दिल्ली के सरकारी स्कूलों ने 12वीं की बोर्ड परीक्षाओं में निजी स्कूलों से बेहतर प्रदर्शन किया है। कक्षा तीन और पांच के बीच के छात्रों की संख्या में 20 प्रतिशत की वृद्धि हुई जो अंकगणितीय विभाजन की समस्याओं को हल कर सकते हैं। लगभग 8 लाख छात्र दैनिक हैप्पीनेस कक्षाओं में भाग लेते हैं जबकि लगभग 7 लाख छात्र उद्यमिता कक्षाओं में भाग ले रहे हैं, जो उनकी मानसिकता और व्यवहार को सकारात्मक रूप से प्रभावित कर रहे हैं।

मनीष सिसोदिया ने मानसिकता पाठ्यक्रम में और इजाफा करते हुए दुनिया का सबसे बड़ा छात्र उद्यमिता कार्यक्रम “बिजनेस ब्लास्टर्स” भी शुरू किया है। बिजनेस ब्लास्टर्स कार्यक्रम के अपने पहले संस्करण में 126 छात्रों ने अंतिम दौर में जगह बनाई और 5 मार्च 2022 को आयोजित बिजनेस ब्लास्टर्स एक्सपो- 2022 में अपने व्यवसायों का प्रदर्शन किया।

2018 में उन्होंने सरकार के शिक्षा और स्वास्थ्य देखभाल सुधारों पर हार्वर्ड केनेडी स्कूल में हार्वर्ड इंडिया सम्मेलन में मुख्य भाषण दिया। 2017 में उन्होंने 70 देशों के शिक्षाविदों के सामने मॉस्को में वैश्विक शिक्षा सम्मेलन में दिल्ली शिक्षा मॉडल प्रस्तुत किया।

दिसंबर 2021 में मनीष सिसोदिया ने दुबई में रिवायरएड शिखर सम्मेलन में माइंडसेट पाठ्यक्रम (खुशी, उद्यमिता और देशभक्ति) प्रस्तुत किया।

मई 2022 में उन्होंने लंदन, यूके में एजुकेशन वर्ल्ड फोरम-2022 में 100 से अधिक देशों के मंत्रियों और जन प्रतिनिधियों की उपस्थिति में ‘सरकारी स्कूल प्रणाली में दिल्ली के लोगों के विश्वास को बहाल करने’ की कहानी साझा की।

2021 में उन्होंने बढ़ते कोविड -19 मामलों के बीच कक्षा 10 की सीबीएसई बोर्ड परीक्षा 2020-21 को रद्द करने के लिए छात्रों का समर्थन किया। अगस्त 2022 में उनकी शिक्षा नीति को द न्यूयॉर्क टाइम्स से प्रशंसा मिली।

उन्होंने उच्च और तकनीकी शिक्षा के क्षेत्र में कई पहल की हैं जिसमें तीन नए राज्य विश्वविद्यालय स्थापित करना शामिल है।( दिल्ली स्किल एंड एंटरप्रेन्योरशिप यूनिवर्सिटी (DSEU), दिल्ली स्पोर्ट्स यूनिवर्सिटी (DSU) और दिल्ली शिक्षक विश्वविद्यालय)।

दिल्ली में वित्त मंत्री के रूप में

इनके कार्यकाल के दौरान सरकार का बजट 7 वर्षों में दोगुने से अधिक हो गया है, ”2014-15 में ₹30,940 करोड़, 2022-23 में ₹75,800” हो गया। “रेड राज” को समाप्त करके और लीक को बंद करके कर आधार में वृद्धि के कारण ऐसी वृद्धि संभव थी। इसे सार्वजनिक वित्त की राजनीतिक जवाबदेही में सुधार की दिशा में एक क्रांतिकारी कदम माना जा रहा है।

वह लगातार आठ बजट पेश करने वाले किसी भी राज्य के एकमात्र वित्त मंत्री हैं। 26 मार्च 2022 को वित्त मंत्री मनीष सिसोदिया ने दिल्ली विधानसभा में 75 हजार 800 करोड़ रुपये का बजट पेश किया। आप नेताओं को उम्मीद थी कि आने वाले पांच वर्षों में बजट दिल्ली में 20 लाख लोगों के लिए रोजगार पैदा करेगा।

मनीष सिसोदिया को प्राप्त पुरस्कार

  • इन्हे 2016 में द इंडियन एक्सप्रेस द्वारा 2016 के 100 सबसे प्रभावशाली भारतीयों में सूचीबद्ध किया गया।
  • 2017 में सिसोदिया को “सर्वोत्तम शिक्षा मंत्री” पुरस्कार से सम्मानित किया गया।
  • 2019 में दिल्ली में शिक्षा के क्षेत्र में इनके असाधारण कार्य के लिए ”चैंपियंस ऑफ चेंज” अवार्ड से इन्हे सम्मानित किया गया।
  • 2021 में मनीष सिसोदिया को शिक्षा में उत्कृष्टता को बढ़ावा देने के लिए ”महात्मा पुरस्कार” से सम्मानित किया गया है, जो सामाजिक प्रभाव नेताओं और परिवर्तन करने वालों के काम का जश्न मनाने के लिए एक वैश्विक पुरस्कार है।

मनीष सिसोदिया नेटवर्थ

इनकी की कुल संपत्ति 4-5 मिलियन डॉलर के लगभग है।

मनीष सिसोदिया सोशल मीडिया (Social Media)

Instagram Click Here
Twitter Click Here
Email ID Click Here

FAQ :

Q : मनीष सिसोदिया कौन है ?

Ans : मनीष सिसोदिया एक भारतीय राजनीतिज्ञ और फरवरी 2015 से दिल्ली के उपमुख्यमंत्री हैं। वह आम आदमी पार्टी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी समिति के सदस्य हैं और आम आदमी पार्टी के संस्थापक सदस्य भी हैं। वह पटपड़गंज निर्वाचन क्षेत्र से (लगातार तीसरी बार) विधायक भी हैं। दिल्ली के एनसीटी सरकार में उनके पास शिक्षा, उच्च शिक्षा, तकनीकी शिक्षा, लोक निर्माण विभाग, श्रम, वित्त, योजना, उत्पाद शुल्क, जीएसटी, सतर्कता, सेवाएं, पर्यटन, भूमि और भवन, कला, संस्कृति और भाषा विभाग है।

Q : मनीष सिसोदिया की पार्टी का नाम क्या है ?

Ans : आम आदमी पार्टी

Q : मनीष सिसोदिया का जन्म कब और कहां हुआ ?

Ans : मनीष सिसोदिया का जन्म 5 जनवरी 1972 को उत्तर प्रदेश के हापुड़ जिले के फगौता गाँव के एक राजपूत परिवार में हुआ था।

Q : मनीष सिसोदिया की उम्र कितनी है ?

Ans : 50 वर्ष

Q : मनीष सिसोदिया की शैक्षिक योग्यता क्या है ?

Ans : इन्होंने भारतीय विद्या भवन कॉलेज दिल्ली से जर्नलिज्म में डिप्लोमा किया।

Q : दिल्ली के उप मुख्यमंत्री कौन हैं ?

Ans : मनीष सिसोदिया

Q : दिल्ली के शिक्षा मंत्री कौन हैं ?

Ans : मनीष सिसोदिया

Q : मनीष सिसोदिया की फैमिली कौन है ?

Ans : इनके पिता का नाम धर्मपाल सिसोदिया है जो अध्यापक है। इनकी माता का नाम ज्ञात नहीं है। इनका विवाह सीमा सिसोदिया से हुआ और इनका एक बेटा भी है जिसका नाम मीर सिसोदिया है।

अन्य पोस्ट पढ़े :


Social Share

Leave a Comment

जानिए रविंद्र जडेजा क्यों हुए वर्ल्ड कप से बाहर लाइगर फिल्म अभिनेत्री अनन्या पांडे फैक्ट मीराबाई चानू ने जीता बर्मिंघम कॉमनवेल्थ गेम्स में स्वर्ण पदक Actress Tara Sutaria Biography, Age, Height, Family, Moveis, Networth भारती और हर्ष पहली बार नजर आए अपने बेबी के साथ जानिए बेबी का नाम बॉलीवुड की हॉट एक्ट्रेस दिशा पाटनी के बारे में जाने