नवनीत सिकेरा का जीवन परिचय | Navneet Sekera Biography In Hindi

Social Share

नवनीत सिकेरा का जीवन परिचय ,(आईपीएस),पत्नी,गांव ,जाति ,पिता ,परिवार ,शिक्षा ,इंस्टाग्राम ,करियर [Navneet Sekera biography] ( IPS ,wife, village, caste, father, family, education, Instagram, career)

नवनीत सिकेरा 1996 आईएएस कैडेट बैच के आईपीएस हैं। जो उत्तर प्रदेश में इंस्पेक्टर जनरल आईजी के पद पर कार्यरत थे और वर्तमान में प्रमोशन के बाद एडीजी (ADG )पद पर कार्यरत हैं। यह एक वक्ता ,ग्रोथ हैकर ,लोकसेवक ,महिला सशक्तिकरण व्यवसाई और नीति निर्धारण विशेषज्ञ भी हैं।

अपने पुलिस करियर में इन्होंने लगभग 60 से भी अधिक एनकाउंटर किए हैं। लखनऊ के कुख्यात गैंगस्टर रमेश कालिया के एनकाउंटर के बाद नवनीत सिकेरा का नाम बहुत चर्चा में रहा। इनके जीवन पर आधारित वेब सीरीज ”भौकाल ”और ”भौकाल 2 ” बनाई गई है। जो एक जांबाज आईपीएस अफसर के जुर्म के खिलाफ बंदूक उठाने की घटना को दर्शाती है। इन्होंने महिला और नारी सशक्तिकरण के लिए महिला पावर लाइन 1090 को भी उत्तरप्रदेश में शुरू किया।

नवनीत सिकेरा का जीवन परिचय

नाम नवनीत सिकेरा (Navneet Sekera) (IPS)
जन्म 22 अक्टूबर 1971
वास्तविक नाम नवनीत यादव
जन्म स्थानउत्तर प्रदेश , इटावा ,भारत
गृह नगर इटावा ,उत्तर प्रदेश
उम्र 50 वर्ष
पिता स्वर्गीय मनोहर सिंह यादव (किसान)
शिक्षा (B.E) कंप्यूटर विज्ञान
भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान ,रुड़की
व्यवसाय पुलिस अतिरिक्त महानिदेशक पुलिस
(एडीजी),उत्तर प्रदेश
IPS अधिकारी
पत्नी डॉ. पूजा ठाकुर सिकेरा
(सामाजिक कार्यकर्ता और मोटिवेशनल स्पीकर)
बेटा दिव्यांश सिकेरा
बेटी आर्य सिकेरा
लोकप्रियताइनके जीवन पर आधारित वेब सीरीज ”भौकाल ” से हुई
हाइट 5 फुट 10 इंच
राष्ट्रीयता भारतीय
धर्म हिंदू
जाति अन्य पिछड़ा वर्ग (OBC)
वैवाहिक स्थिति विवाहित
शैक्षिक योग्यता बीटेक ,एमबीए
वजन 75 किलो
इंस्टाग्राम यहां क्लिक करें
टि्वटर यहां क्लिक करें
फेसबुकयहां क्लिक करें
यूट्यूब चैनलJosh Talks

नवनीत सिकेरा का जन्म एवं परिवार

नवनीत सिकेरा का जन्म 22 अक्टूबर 1971 को उत्तर प्रदेश के इटावा में हुआ। उनके पिता का नाम स्वर्गीय मनोहर सिंह यादव और नवनीत की पत्नी का नाम डॉक्टर पूजा ठाकुर सिकेरा है। इनके बेटे का नाम दिव्यांश सिकेरा और बेटी का नाम आर्य सिकेरा है।

नवनीत सिकेरा की शिक्षा

नवनीत ने अपनी 12वीं तक की पढ़ाई उत्तर प्रदेश के हिंदी मीडियम सरकारी स्कूल से कि। उसके बाद इंटर में अच्छे नंबर आने पर ये बीएससी की पढ़ाई करने दिल्ली के हंसराज कॉलेज गए और वहां बीएससी प्रवेश फॉर्म मांगने पर कॉलेज के कलर के ने उन्हें अंग्रेजी ना आने की वजह से अपमानित किया और कार्यालय से बाहर निकाल दिया और कहा यह ₹5 पकड़ो और वापस चले जाओ और उसी समय से नवनीत ने अपने मन में ठान लिया कि वह अपने ऊपर अंग्रेजी ना आने का ठप्पा खुद हटाएंगे। नवनीत ने अपने घर की गरीबी को देखते हुए किताबों की फोटो कॉपी करके अपनी पढ़ाई पर पूरा ध्यान दिया ।

इन्हें एक अच्छे आईआईटी इंजीनियरिंग कॉलेज में प्रवेश लेना था। इसलिए नवनीत ने आईआईटी की तैयारी की और अपने पहले प्रयास में आईआईटी। जेईई को क्रैक कर दिया। अच्छे मार्क्स होने के कारण इन्हें आईआईटी रुड़की में एडमिशन मिला और उन्होंने 1989 से 1993 तक अपनी इंजीनियरिंग की पढ़ाई कंप्यूटर साइंस से पूरी की।

इंडियन स्कूल आफ बिजनेस (आईएसबी) हैदराबाद से एमबीए किया।और बीटेक (सीएसई) तथा एमबीए (वित्त , रणनीति और नेतृत्व) किया।

1996 में यूपीएससी की परीक्षा दी और पहले ही प्रयास में यूपीएससी परीक्षा को पास किया और पहली पोस्टिंग गोरखपुर के सहायक पुलिस अधीक्षक एएसपी के रूप में हुई । 32 साल की उम्र में ही उत्तर प्रदेश राज्य की राजधानी लखनऊ के सबसे कम उम्र के पुलिस प्रमुख एसएसपी बने ।

पुरस्कार

2005विशिष्ट सेवा हेतु राष्ट्रपति पुलिस पदक
2013मेधावी सेवा हेतु राष्ट्रपति पुलिस पदक
2002मुख्यमंत्री पुरस्कार नवाचार हेतु
2015महानिदेशक का कमीशन डिस्क -सिल्वर मेडल
2018महानिदेशक का कमीशन डिस्क-गोल्ड मेडल

करियर

उनके जीवन में काफी उतार-चढ़ाव आए। एक बार उनके पैतृक जमीन पर कुछ गुंडों ने जबरदस्ती कब्जा कर लिया ,जिसकी शिकायत लेकर उनके पिता पुलिस चौकी पहुंचे। जहां पुलिस इंस्पेक्टर ने उनके पिता से अभद्रता की पुलिस द्वारा उनके पिता के साथ किए गए अभद्र व्यवहार को सिखेरा ने सहन नहीं करा तभी उन्होंने ठान लिया उन्हें भी एक पुलिस ऑफिसर बनना है।

इन्होंने बालिकाओं और महिलाओं के सशक्तिकरण हेतु वुमन पावर हेल्पलाइन नंबर 1090 की अवधारणा को विकसित किया और व्यवस्थित किया। जिसे यूपी सरकार ने 2012 में लागू किया।

ये एक मुख्य वक्ता कॉरपोरेट मेंटर , ग्रोथ हैकर ,पब्लिक सर्वेंट ,वुमन एंपावरमेंट प्रैक्टिशनर और पॉलिसी डिजाइनिंग विशेषज्ञ हैं। इसके अलावा ये भारतीय फिल्म लेखक संघ के एक सक्रिय सदस्य भी हैं।

इन्होंने अपने पुलिस करियर में लगभग 60 से भी ज्यादा एनकाउंटर किए हैं। 6 मार्च 2020 को इनके जीवन पर आधारित एमएक्स प्लेयर वेब सीरीज ” भौकाल ” को रिलीज किया गया। जिसमें आईपीएस नवनीत सिकेरा का मुख्य किरदार एक्टर मोहित रैना ने निभाया है ,और 2022 में ” भौकाल 2 ” वेब सीरीज भी रिलीज होने वाली है।

यूपी पुलिस में तैनात नवनीत सिकेरा सोशल मीडिया पर काफी एक्टिव रहते हैं। यह युवाओं को मेहनत करने और आगे बढ़ने के लिए प्रेरित करते हैं। ये अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर युवाओं के लिए टिप्स भी शेयर करते हैं। इसके अलावा फेसबुक, इंस्टाग्राम पर आने वाली लोगों की शिकायतों का भी तुरंत समाधान करते हैं।

नवनीत एक सॉफ्टवेयर इंजीनियर भी है। इन्होंने 2001 में टेक्निकल सर्विस में कार्य करते हुए जीपीएस -जीआईएस पर आधारित ऑटोमेटिक वाहन लोकेशन सिस्टम विकसित किया था। इस कार्य हेतु इन्हें यूपी के मुख्यमंत्री राजनाथ सिंह द्वारा 5 लाख रूपये पुरस्कार भी दिया गया।

पत्नी डॉ.पूजा ठाकुर सिकेरा

नवनीत सिकेरा की पत्नी पूजा ठाकुर एक सामाजिक कार्यकर्ता ,परोपकारी और महिलाओं के खिलाफ होने वाले उत्पीड़न को जड़ से खत्म करने को लेकर एक सलाहकार के रूप में काम करती हैं।

FAQ

Q- नवनीत सिकेरा के पिता का नाम क्या है ?

ANS – स्वर्गीय मनोहर सिंह यादव

Q- नवनीत सिकेरा कहां के रहने वाले हैं ?

ANS – उत्तर प्रदेश , इटावा ,भारत

Q- नवनीत सिकेरा की पत्नी का नाम क्या है ?

ANS – पत्नी डॉ.पूजा ठाकुर सिकेरा

Q- नवनीत सिकेरा की जाति क्या है ?

ANS – अन्य पिछड़ा वर्ग (OBC)

अन्य पोस्ट पढ़ें

1- बायजू रवींद्रन का जीवन परिचय

2- प्रफुल्ल बिलौरी का जीवन परिचय

3- फाल्गुनी नायर का जीवन परिचय


Social Share

Leave a Comment

T20 में शतक जड़ने वाले भारतीय बल्लेबाज की लिस्ट शुभमन गिल ने लगाया शानदार शतक भारत ने जीता अंडर-19 क्रिकेट महिला विश्व कप ICC के वर्ष के सर्वश्रेष्ठ T20 क्रिकेटर बने सूर्यकुमार भारतीय क्रिकेटर जिन्होंने बॉलीवुड अभिनेत्रियों से की शादी केएल राहुल और अथिया शेट्टी आज करेंगे शादी वनडे में दोहरा शतक लगाने वाले भारतीय खिलाड़ी Shubman Gill ने लगाया पहला एकदिवसीय दोहरा शतक