एकनाथ शिंदे का जीवन परिचय, महाराष्ट्र के मुख़्यमंत्री, उम्र, परिवार, पत्नी, राजनितिक पार्टी, नेटवर्थ | Eknath Shinde Biography In Hindi

Social Share

एकनाथ शिंदे फैमिली हिस्ट्री (Eknath Shinde family history)

Contents hide
1 एकनाथ शिंदे फैमिली हिस्ट्री (Eknath Shinde family history)

एकनाथ शिंदे का जीवन परिचय, महाराष्ट्र के मुख़्यमंत्री, उम्र, परिवार, पत्नी, राजनितिक पार्टी, नेटवर्थ, बेटी, जाति, फैमिली हिस्ट्री, प्रॉपर्टी, हाउस, ट्विटर, बंगलो नेम, राजनितिक करियर [Eknath Shinde Biography In Hindi] (Chief Minister of Maharashtra, Age, Family, Wife, Political Party, Net Worth, Daughter, Caste, Family History, Property, House, Twitter, Bunglow Name, Political Career)

एकनाथ शिंदे एक भारतीय राजनीतिज्ञ है। महाराष्ट्र की राजनीति में हुई उठापटक के बाद उन्होंने 30 जून 2022 को महाराष्ट्र के 20वें मुख्यमंत्री के रूप में शपथ ली। इससे पहले यह महाराष्ट्र सरकार में शहरी विकास और लोक निर्माण के कैबिनेट मंत्री थे। वर्ष 2019 में उन्हें शिवसेना के टिकट पर महाराष्ट्र के कोपरी-पछपाखडी निर्वाचन क्षेत्र से विधान सभा के सदस्य के रूप में चुना गया था। वे महाराष्ट्र विधान सभा में लगातार 4 बार निर्वाचित हुए (2004, 2009, 2014 और 2019 में)।

इनका जन्म 9 फरवरी 1964 को महाराष्ट्र की राजधानी मुंबई में हिंदू कुनबी मराठा परिवार में हुआ था। सतारा उनका गृह जिला है।इनके पिता का नाम संभाजी नवलु शिंदे है। इनकी माता का नाम गंगूबाई संभाजी शिंदे है। इनका विवाह लता एकनाथ शिंदे से हुआ, जो एक बिजनेस महिला है। इनका एक बेटा भी है जिसका नाम श्रीकांत शिंदे है।

एकनाथ शिंदे का जीवन परिचय

(Eknath Shinde Biography In Hindi)

नाम (Name) एकनाथ शिंदे (Eknath Shinde)
पूरा नाम (Full Name) एकनाथ संभाजी शिंदे
जन्म (Birth) 9 फरवरी 1964
जन्म स्थान (Birth Place) महाराष्ट्र , भारत
गृहनगर (Hometown) जवाली तालुका, जिला सतारा, (महाराष्ट्र)
उम्र (Age) 58 वर्ष (2022)
पेशा (Profession) राजनीतिज्ञ, बिजनेसमैन, सामाजिक कार्यकर्ता
राजनीतिक पार्टी (Political Party) शिवसेना
कॉलेज (College) डॉ. डी. वाई. पाटिल मेडिकल कॉलेज, अस्पताल और अनुसंधान केंद्र
यशवंतराव चव्हाण महाराष्ट्र मुक्त विश्वविद्यालय
वैवाहिक स्थिति (Marital Status) विवाहित
जाति (Caste) मराठा
धर्म (Religion) हिंदू
नागरिकता  (Nationality) भारतीय
प्रॉपर्टी (Property) 7 करोड़ 82 लाख रुपए
बंगलो नेम (Bungalow Name) वर्षा (मुख्यमंत्री आवास)
हाउस (House) शिव शक्ति भवन, थाने

एकनाथ शिंदे का परिवार (Eknath Shinde Family)

पिता (Father Name) संभाजी नवली शिंदे
माता (Mother Name) गंगूबाई संभाजी शिंदे
भाई (Brother) प्रकाश संभाजी शिंदे
पत्नी (Wife) लता एकनाथ शिंदे
बेटा (Son) श्रीकांत शिंदे, स्वर्गीय दीपेश
बेटी (Daughter) स्वर्गीय शुभदा

एकनाथ शिंदे फैमिली ट्रेजेडी (Eknath Shinde Family Tragedy)

2000 में 2 जून का दिन एकनाथ शिंदे के लिए काफी दुख भरा रहा। दरअसल इसी दिन वह महाराष्ट्र के सतारा जिले में अपने 11 साल के बेटे दीपेश और 7 साल की बेटी शुभदा के साथ घूमने के लिए गए थे और बोटिंग करने के दरमियान एक भयानक एक्सीडेंट हुआ। इसी एक्सीडेंट में इनके बेटे और बेटी पानी में डूब गए। इस प्रकार से साल 2000 का समय इनके लिए काफी दुख पूर्ण रहा। हालांकि अब वर्तमान के समय में इनके पास इनका एक बेटा श्रीकांत शिंदे है।

एकनाथ शिंदे की शिक्षा (Eknath Shinde’s Education)

उन्होंने 11 वीं तक की पढ़ाई मंगला हाई स्कूल और जूनियर कॉलेज, ठाणे से की। उन्होंने अपनी स्कूली शिक्षा छोड़ दी और अपने परिवार के लिए आजीविका कमाने के लिए एक छोटा सा काम वागले एस्टेट इलाके में रहकर ऑटो रिक्शा चलाने लगे। 1980 के में वे शिवसेना सुप्रीमो बाल ठाकरे और शिवसेना के ठाणे जिला प्रमुख आनंद दिघे के संपर्क में आए। जिन्होंने उन्हें शिवसेना में शामिल होने में सहायता की। वर्ष 2014 में उन्होंने भाजपा-शिवसेना सरकार में मंत्री बनने के बाद अपनी पढ़ाई फिर से शुरू की और वाशवंतराव चव्हाण मुक्त विश्वविद्यालय, महाराष्ट्र से मराठी और राजनीति विषयों में स्नातक (B.A) की डिग्री हासिल की।

एकनाथ शिंदे का राजनीतिक जीवन

महज 18 साल की उम्र में उनका राजनीतिक जीवन शुरू हुआ और शिंदे एक आम शिवसेना कार्यकर्ता के रूप में काम करने लगे। करीब डेढ़ वर्ष तक शिवसेना कार्यकर्ता के रूप में काम करने के बाद 1997 में शिंदे ने चुनावी राजनीति में कदम रखा। 1997 के ठाणे नगर निगम चुनाव में आनंद दिघे ने शिंदे को पार्षद का टिकट दिया। शिंदे अपने पहले ही चुनाव में जीतने में सफल रहे। 2001 में नगर निगम सदन में विपक्ष के नेता बने। इसके बाद दोबारा 2002 में दूसरी बार निगम पार्षद बने। शिंदे का कद 2001 के बाद बढ़ना शुरू हुआ। जब उनके राजनीतिक गुरु आनंद दिघे का निधन हो गया। इसके बाद ठाणे की राजनीति में शिंदे की पकड़ मजबूत होने लगी।

2005 में नारायण राणे के पार्टी छोड़ने के बाद शिंदे का कद शिवसेना में बढ़ता ही चला गया। जब राज ठाकरे ने पार्टी छोड़ी तो शिंदे ठाकरे परिवार के करीब आ गए। 2004 के विधानसभा चुनाव में शिवसेना ने शिंदे को ठाणे विधानसभा सीट से टिकट दिया। यहां भी शिंदे को जीत मिली। उन्होंने कांग्रेस के मनोज शिंदे को 37 हजार से अधिक वोट से मात दी। इसके बाद 2009, 2014 और 2019 में शिंदे ठाणे जिले की कोपरी पछपाखडी सीट से जीतकर विधानसभा पहुंचे। देवेंद्र फडणवीस सराकर में शिंदे राज्य के लोक निर्माण मंत्री रहे।

2019 के विधानसभा चुनाव के बाद शिंदे मुख्यमंत्री पद की रेस में सबसे आगे थे। चुनाव के बाद विधायक दल की बैठक में खुद आदित्य ठाकरे ने शिंदे के नाम का प्रस्ताव रखा और वह शिवसेना विधायक दल के नेता चुने गए। इसके बाद तो उनके समर्थकों ने ठाणे में भावी मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे के पोस्टर तक लगा दिए थे। उद्धव सरकार में शिंदे राज्य के शहरी विकास मंत्री होने के साथ ठाणे जिले के प्रभारी मंत्री भी हैं। कहा जाता है कि शिंदे कांग्रेस और एनसीपी के साथ गठबंधन से खुश नहीं थे। इसके बाद उनके और उद्धव ठाकरे के बीच दूरियां बढ़ने लगीं।

2022 में महाराष्ट्र की राजनीतिक उठापटक

शिंदे महाविकास अघाड़ी को तोड़ने और भारतीय जनता पार्टी के साथ गठबंधन को फिर से स्थापित करने के पक्ष में थे। उन्होंने वैचारिक मतभेदों और कांग्रेस पार्टी और भारतीय राष्ट्रवादी कांग्रेस द्वारा अनुचित व्यवहार के कारण उद्धव ठाकरे से महा विकास अघाड़ी गठबंधन को तोड़ने का अनुरोध किया। उनके साथी शिवसेना सदस्यों ने कहा कि उद्धव ठाकरे ने उनकी शिकायतों की अनदेखी की। उन्होंने अपने अनुरोध का समर्थन करने के लिए अपनी पार्टी से 2/3 सदस्यों को इकट्ठा किया।

यह संकट 21 जून 2022 को शुरू हुआ, जब शिंदे और कई अन्य विधायक महा विकास अघाड़ी (MVA) गठबंधन भाजपा शासित गुजरात में सूरत में चला गया। जिससे गठबंधन को अराजकता में फेंक दिया गया। शिंदे के विद्रोह के परिणामस्वरूप उद्धव ठाकरे ने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे दिया और कहा कि वह महाराष्ट्र विधान परिषद से भी इस्तीफा दे देंगे। शिंदे ने सफलतापूर्वक भाजपा-शिवसेना गठबंधन को फिर से स्थापित किया और 30 जून 2022 को इन्होंने महाराष्ट्र के 20 वें मुख्यमंत्री के रूप में शपथ ली। जिसमें भारतीय जनता पार्टी के देवेंद्र फडणवीस उपमुख्यमंत्री बने।

image credit : instagram
Eknath Shinde with Governor Bhagat Singh koshyari image credit : instagram

एकनाथ शिंदे नेटवर्थ (Eknath Shinde Net Worth)

चुनाव आयोग के अनुसार एकनाथ शिंदे की नेटवर्थ (11 करोड़, 56 लाख, 12 हजार, 466 रुपए) आंकी गई है। उनका कर्ज 3 करोड़, 74 लाख, 60 हजार, 261 है। उनके पास 2 इनोवा और 1 स्कॉर्पियो हैं। उनके पास 25,87,500 रुपये के जेवर हैं। कुल मिलाकर उनकी अचल संपत्ति लगभग 9 करोड़ रुपये आंकी गई है।

एकनाथ शिंदे सोशल मीडिया (Eknath Shinde Social Media)

Twitter Click Here
Instagram Click Here

FAQ :

Q : एकनाथ शिंदे कौन है ?

Ans : एकनाथ शिंदे एक राजनेता है। वर्तमान में वे महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री बन गए हैं, इससे पूर्व वे महाराष्ट्र सरकार में कैबिनेट मंत्री रह चुके हैं।

Q : एकनाथ शिंदे की पत्नी कौन है ?

Ans : गंगूबाई संभाजी शिंदे

Q : एकनाथ शिंदे की जाति क्या है ?

Ans : पाटीदार

Q : एकनाथ शिंदे ने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री पद की शपथ कब ली ?

Ans : 30 जून 2022 को

Q : एकनाथ शिंदे की उम्र कितनी है ?

ANS : 58 वर्ष

Q : एकनाथ शिंदे की राजनीतिक पार्टी कौन सी है ?

ANS : शिवसेना

Q : एकनाथ शिंदे की वाइफ का नाम क्या है ?

ANS : लता एकनाथ शिंदे

अन्य पोस्ट पढ़े :


Social Share

Leave a Comment

जानिए रविंद्र जडेजा क्यों हुए वर्ल्ड कप से बाहर लाइगर फिल्म अभिनेत्री अनन्या पांडे फैक्ट मीराबाई चानू ने जीता बर्मिंघम कॉमनवेल्थ गेम्स में स्वर्ण पदक Actress Tara Sutaria Biography, Age, Height, Family, Moveis, Networth भारती और हर्ष पहली बार नजर आए अपने बेबी के साथ जानिए बेबी का नाम बॉलीवुड की हॉट एक्ट्रेस दिशा पाटनी के बारे में जाने